MP NEWS : प्रदेश के प्रदेश के राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के पदक विजेता खिलाड़ियों को सीधी भर्ती का लाभ मिलेगा.

खिलाड़ियों के लिए खुशखबरी-MP में पुलिस विभाग में होगी भर्ती

Posted on

 

MP NEWS : प्रदेश के प्रदेश के राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के पदक विजेता खिलाड़ियों को सीधी भर्ती का लाभ मिलेगा.

 प्रदेश के प्रदेश के राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के पदक विजेता खिलाड़ियों को सीधी भर्ती का लाभ मिलेगा.

भोपाल. एमपी सरकार (MP Government) ने आज खिलाड़ियों (Players) को प्रोत्साहित करने के लिए बड़ा फैसला लिया. प्रदेश के राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी अब पुलिस विभाग (Police) में बिना लिखित परीक्षा के सीधी भर्ती में शामिल हो सकेंगे. प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ऐलान किया कि ओलंपिक एशियन गेम्स के पदक विजेताओं को सीधे सब इंस्पेक्टर और कॉन्स्टेबल के पद पर भर्ती दी जाएगी. विभाग हर साल 60 खिलाड़ियों की भर्ती करेगा.

खिलाड़ियों के चयन के लिए एक अलग चयन समिति बनायी जाएगी.ये समिति खिलाड़ियों को सीधी भर्ती के जरिए सेवा में रखने का फैसला लेगी. राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में पदक जीतने वालों को भी सरकारी सेवा में लिया जाएगा.

ट्रेन में लिया फैसला
गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा रविवार को दतिया से भोपाल ट्रेन से लौट रहे थे. रास्ते में ट्रेन में उनकी मुलाकात राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में पदक जीतने वाली प्रदेश की खिलाड़ियों से हुई. उन खिलाड़ियों ने मिश्रा से अपने मन की बात कही. उनसे मुलाकात के बाद नरोत्तम मिश्रा ने खिलाड़ियों के हित में यह बड़ा फैसला लिया कि खिलाड़ियों को सरकारी सेवा में सीधी भर्ती देगी सरकार.

एमपी की होनहार खिलाड़ी
हाल ही में मध्य प्रदेश मार्शल आर्ट कुश्ती अकादमी की खिलाड़ी पूजा जाट और रमन यादव ने आगरा उत्तर प्रदेश में आयोजित 23वीं सीनियर महिला राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता में एक-एक कांस्य पदक अर्जित किया. दोनों खिलाड़ियों का टोक्यो ओलंपिक के लिए हो रहे इंडिया कैंप के लिए भी चयन हुआ है.सीनियर महिला राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता में पूजा जाट ने 53 किलो भार वर्ग और रमन यादव ने 57 किलो भार वर्ग में मध्य प्रदेश को कांस्य पदक दिलाया है.

READ  – MORE

Priyanka Gandhi का BJP पर हमला, कहा- किसान आंदोलन कवर कर रहे पत्रकारों को गिरफ्तार

Farmers Protest: प्रियंका गांधी  ने किसान आंदोलन के दौरान हुई पत्रकारों की गिरफ्तारी और बंद की गई इंटरनेट सेवा को लेकर सरकार को घेरा.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.