Home

इंग्लैंड ने जीता पहला टेस्ट, चेन्नई में 22 साल बाद हारा भारत

Posted on

 

नई दिल्ली. चेन्नई में खेले गए पहले टेस्ट मैच में इंग्लैंड ने भारतीय टीम को 227 रनों से हरा दिया. चेन्नई के चेपॉक मैदान पर टीम इंडिया को 22 सालों बाद हार मिली है. 420 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया चौथी पारी में सिर्फ 192 रनों पर सिमट गई. भारत की ओर से सिर्फ विराट कोहली (72) और शुभमन गिल (50) ने ही संघर्ष का माद्दा दिखाया. इंग्लैंड की ओर से दूसरी पारी में जैक लीच ने चार, जेम्स एंडरसन ने तीन जबकि बेन स्टोक्स, जोफ्रा आर्चर और डॉम बेस ने एक-एक विकेट लिया.

इससे पहले भारत ने दिन की शुरुआत एक विकेट पर 39 रन से की. सलामी बल्लेबाज गिल शुरुआत से ही अच्छी लय में दिखे. उन्होंने लीच की दिन की दूसरी ही गेंद पर चौका जड़ा लेकिन चेतेश्वर पुजारा (15) ने बायें हाथ के स्पिनर लीच की तेजी से स्पिन होती गेंद पर बल्ले का मुंह लेग साइड की ओर मोड़ दिया और गेंद उनके बल्ले का किनारा लेकर स्लिप में खड़े बेन स्टोक्स के सुरक्षित हाथों में चली गई. गिल ने आफ स्पिनर डॉम बेस को निशाना बनाया और उनके ओवरों में दो चौके और एक छक्का जड़ा. इस युवा प्रतिभावान बल्लेबाज ने लीच पर भी चौका और फिर एक रन के साथ 81 गेंद में अपने करियर का तीसरा अर्धशतक पूरा किया. जो रूट ने इसके बाद गेंद एंडरसन को थमाई जिन्होंने तेजी से अंदर आती दूसरी ही गेंद पर गिल को बोल्ड कर दिया. गिल ने 83 गेंद की अपनी पारी में सात चौके और एक छक्का मारा.

बिना खाता खोले आउट हुए रहाणे
एक गेंद बाद एंडरसन ने अजिंक्य रहाणे के खिलाफ पगबाधा की विश्वसनीय अपील की लेकिन अंपायर ने इसे ठुकरा दिया. इंग्लैंड ने डीआरएस का सहारा लिया लेकिन पैड से गेंद टकराते समय अंपायर कॉल आने के कारण वह बच गए. रहाणे हालांकि इसका फायदा नहीं उठाए पाए और अगली ही गेंद पर बोल्ड हो गए. वह खाता भी नहीं खोल पाए. कोहली ने ऋषभ पंत के साथ मिलकर 30वें ओवर में भारत का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया. पंत हालांकि अधिक देर टिक नहीं सके और सिर्फ 11 रन बनाने के बाद एंडरसन की गेंद को शरीर से दूर खेलने की कोशिश में शॉर्ट कवर पर रूट को बेहद आसान कैच दे बैठे. बेस ने पहली पारी में नाबाद 85 रन बनाने वाले वाशिंगटन सुंदर को खाता भी नहीं खोलने दिया. जोस बटलर ने उनका कैच पकड़ा. मैदानी अंपायर ने वाशिंगटन को नॉटआउट करार दिया था लेकिन डीआरएस लेने पर फैसला गेंदबाज के पक्ष में गया.

यह भी पढ़ें:

अश्विन ने पहली पारी में फेंके 55.1 ओवर, बनाा अनोखा रिकॉर्ड India vs England

पहली पारी में 34 रन बनाने वाले अश्विन ने दूसरी पारी में नौ रन ही बना सके. जैक लीच की गेंद पर वह विकेट के पीछे जोस बटलर को कैच दे बैठे. भारत को 8वां झटका विराट कोहली के रूप में लगा. इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने उन्हें बोल्ड मारा. कोहली ने 104 गेंदों में 9 चौकों की मदद से 72 रनों की पारी खेली. कोहली के बाद उतरे शाहबाज नदीम भी कुछ नहीं कर पाए. 13 गेंद खेलने के बाद वह बिना खाता खोले ही जैक लीच की गेंद पर रॉरी बर्न्स को कैच दे बैठे. भारत का आखिरी विकेट जसप्रीत बुमराह के रूप में गिरा.

इंग्लैंड ने पहली पारी में जो रूट के दोहरे शतक से 578 रनों का विशाल स्कोर बनाया था. भारत पहली पारी में ऋषभ पंत के 91 रनों की बदौलत 337 रन बनाने में सफल रहा. इंग्लैंड दूसरी पारी में रविचंद्रन अश्विन के सामने टिक नहीं सकी और 178 रनों पर सिमट गई.

वॉशिंगटन सुंदर ने खेली नाबाद 85 रनों की पारी, संजय मांजरेकर बोले-गजब टैलेंट है

Leave a Reply

Your email address will not be published.