Home

Salman Khan का घोड़ा बताकर महिला से 12 लाख की ठगी, हाईकोर्ट ने दिया जांच का आदेश

Posted on

 

मुंबई. बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान (Salman Khan) का एक और विवाद से नाता जुड़ गया है. खास बात यह है कि यह विवाद भी जोधपुर से जुड़ा है. यह मामला सीधे तो उनसे नहीं जुड़ा है, लेकिन फिर भी इस विवाद में भी उनका नाम जुड़ा है. जोधपुर की एक महिला को सलमान खान का घोड़ा बताकर बेच दिया गया है. महिला से कथित रूप से सलमान के घोड़े की 12 लाख रुपए कीमत वसूली गई है.

घोड़े के बदले पैसे देने के बाद महिला को अपने ठगे जाने का एहसास हुआ. इसके बाद महिला ने थाने में एफआईआर दर्ज करा दी. एफआईआर दर्ज होने के बाद पुलिस ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की. इससे नाराज होकर महिला ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है. हाईकोर्ट ने जोधपुर पुलिस अधीक्षक को इस मामले की जांच कर रिपोर्ट देने के आदेश दिए हैं. महिला ने आरोप लगाया है कि सलमान के साथ घोड़े की एक फोटो दिखाकर उससे 12 लाख रुपए की ठगी कर ली गई है.

आरोपियों ने महिला को बताया कि, वे सलमान को घोड़े बेचते रहते हैं. लेकिन एक्टर अपना यह घोड़ा बेचना चाहते हैं. इस घोड़े को खरीदने के बाद आप कभी भी बेचेंगी तो आपको लाखों रुपए का लाभ होगा. पीड़िता का कहना है हाई प्रोफाइल होने से पुलिस इस मामले की जांच नहीं कर रही है.

धोखाधड़ी की शिकार महिला का नाम संतोष भाटी है. वह घाचियों की ढाणी सांगरिया की रहने वाली है. महिला का आरोप है कि निर्भय सिंह, राजप्रीत और अन्य ने उसके साथ घोड़ा बेचने का सौदा किया था. आरोपियों ने कहा कि उनके पास बॉलीवुड एक्टर सलमान खान का घोड़ा है. इसके लिए उन्होंने सलमान के साथ घोड़े की फोटो दिखाई. आरोपियों ने इस घोड़े के लिए उनसे 12 लाख रुपये देने को कहा. महिला ने इसके लिए 11 लाख रुपए चेक और 1 लाख रुपये कैश दे दिए. लेकिन इसके बाद भी घोड़ा नहीं दिया.

पीड़िता के वकील प्रवीण दयाल दवे ने बताया कि पीड़िता ने जोधपुर के कुड़ी भगतासनी थाने में दर्ज एफआईआर संख्या 0018/2021 के तहत निष्पक्ष जांच न करने पर राजस्थान हाईकोर्ट जोधपुर में याचिका दाखिल की. याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट जस्टिस पुष्पेंद्र सिंह भाटी ने संबंधित पुलिस अधीक्षक को मामले की जांच कर रिपोर्ट देने के आदेश दिए हैं.

READ MORE

कंगना रनौत के खिलाफ कर्नाटक में शिकायत दर्ज, क्लीनिक पहुंचीं करीना

Leave a Reply

Your email address will not be published.